7 साल में भारत होगा सबसे अधिक आबादी वाला देश

7 साल में भारत होगा सबसे अधिक आबादी वाला देश 7 साल में भारत होगा सबसे अधिक आबादी वाला देश

by Preeti Chaudhary

भारत में लगातार बढ़ती जनसंख्या चिंता का विषय है, और परिवार नियोजन के अथक प्रयासों के बावजूद भी भारत की जनसंख्या में बेतहाशा वृद्धि हो रही है। विश्व में चीन जनसंख्या की दृष्टि से सबसे बड़ा देश है और भारत चीन के बाद दूसरे स्थान पर आता है, परंतु अगले 7 सालों में यानी कि 2024 तक भारत जनसंख्या की दृष्टि से चीन को पीछे छोड़कर दुनिया का सबसे बड़ा देश बन जाएगा।

 

संयुक्त राष्ट्र संघ की रिपोर्ट

11 जुलाई विश्व जनसंख्या दिवस के उपलक्ष में संयुक्त राष्ट्र की ओर से एक रिपोर्ट जारी की गई है जिसमें बताया गया कि 2024 तक भारत की जनसंख्या चीन से ज्यादा होगी। वर्तमान में भारत और चीन की जनसंख्या में ज्यादा अंतर नहीं है। जहां चीन की मौजूदा जनसंख्या 1अरब 40 करोड़ है, वही भारत की जनसंख्या एक अरब 30 करोड़ है।

आंकड़ों के मुताबिक दुनिया में हर रोज 3.5 लाख बच्चे जन्म लेते हैं तथा प्रत्येक 20 मिनट में 3000 से अधिक बच्चे पैदा होते हैं। बढ़ती जनसंख्या का मुख्य कारण मृत्यु दर का कम होना बताया गया है। जहां हर सेकंड में 4.8 बच्चों का जन्म होता है वहीं मृत्यु 1.8 लोगों की होती है। 11 जुलाई को जनसंख्या दिवस पर लंदन में एक कार्यक्रम आयोजित किया गया जिसमें जनसंख्या दिवस की थीम, "परिवार नियोजन" लोगों का सशक्तिकरण और देशों का विकास रखी गई।

 

महिलाओं के लिए परिवार नियोजन सम्मेलन

जनसंख्या दिवस पर परिवार नियोजन के बारे में महिलाओं को जागरुक करने के लिए बड़ा वैश्विक सम्मेलन आयोजित किया जा रहा है, जिसमें 12 करोड़ महिलाओं को परिवार नियोजन के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा। दुनिया में 22 करोड़ महिलाएं परिवार नियोजन के प्रति जागरुक नहीं है। जो महिलाएं गर्भ धारण नहीं करना चाहती वह भी गर्भ निरोधक उपायों का इस्तेमाल नहीं करतीं। भारत में भी "मिशन परिवार विकास" नामक अभियान चलाया जा रहा है जिसका उद्देश्य अधिक प्रजनन वाले राज्यों में परिवार नियोजन कार्यक्रम चलाना है।  भारत में ऐसे 7 राज्य है जिसमें प्रजनन दर 3% की है जो देश के अन्य राज्यों की तुलना में सबसे अधिक है। इस अभियान का लक्ष्य इन राज्यों की प्रजनन दर को 2025 तक घटाकर 2.1 प्रतिशत पर लाने का है।

 

भारत की जनसंख्या में 2050 के बाद आयेगी स्थिरता

आंकड़ों के मुताबिक भारत की आबादी में 2050 के बाद कमी देखने को मिल सकती है, वहींं चीन की आबादी में 2030 के बाद गिरावट देखने को मिल सकेगी। 2017 से 2050 के बीच सामूहिक रुप से 10 देशों की जनसंख्या दुनिया की कुल आबादी की आधी जनसंख्या से भी अधिक हो जाएगी। इन 10 देशों की सूची में शामिल हैं– भारत, नाइजीरिया, कांगो, पाकिस्तान, इथोपिया, तंजानिया, अमेरिका, युगांडा, इंडोनेशिया और मिश्र। इन सभी देशों में नाइजीरिया की जनसंख्या सबसे अधिक तेजी से बढ़ रही है जो कि अमेरिका की आबादी को पार करने जा रही है। 2050 तक भारत सबसे बड़ा आबादी वाला देश होगा वहीं नाइजीरिया चीन के बाद तीसरा सबसे अधिक जनसंख्या वाला देश होगा।

News Hindi News
Share your views below